1
लकीरे- देवेन्द्र देव
लकीरे- देवेन्द्र देव

पत्थरो की लकीरों सी है मेरे हाथ की लकीरे उभर के मिट जाती है जज्बात की लकीरे कभी हाथ की लकीरों में तो कभी तुझमे खोजते है हाथ की लकीरे खुद ...

Read more »
 
 
Top