0
पुरानी यादे- देवेन्द्र देव
पुरानी यादे- देवेन्द्र देव

वो गलिया, वो कुचे, वो घर याद आते है ! मुझे अब भी अपनी मुफलिसी के दिन याद आते है !! कोई भूल जाये आज के वक़्त को देखकर ! मुझे अब नानी के सा...

Read more »

0
मै और वक़्त- देवेन्द्र देव
मै और वक़्त- देवेन्द्र देव

कभी- कभी खुद से लड़ता हूँ मै ! कभी जीत जाता हु तो कभी हार जाता हूँ मै !! कई बजी खेली है खुद के साथ मैंने ! पर असल जिन्दगी में हार जाता ...

Read more »
 
 
Top