3

ये भी जमाना है कि
वो पूछते है दिले हाल मेरे
हो गया है नाम मेरा अब इस जहा में
अब तो कह भी नहीं सकते कि अच्छे नहीं हालात फ़िलहाल मेरे

Post a Comment

  1. बहुत अच्छी प्रस्तुति।

    ReplyDelete
  2. अंतिम पंक्तियाँ दिल को छू गयीं.... बहुत सुंदर कविता....

    ReplyDelete

 
Top